NEET Exam Update: नीट एग्जाम को लेकर आ गया बाद अपडेट फटाफट देखे क्या है पूरी जानकारी

NEET Exam 2024: नीट यूजी की परीक्षा 2024 में होने की उम्मीद है, इसलिए जनवरी माह में नोटिफिकेशन मिलने की उम्मीद है. जो छात्र परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं, वे हमारी पोस्ट से लगातार जुड़े रहेंगे और सरकार द्वारा जारी की गई ऑफिशियल वेबसाइट पर अधिक जानकारी के लिए देखेंगे. परीक्षा मई में होगी। हमारे देश में डॉक्टरों की पढ़ाई नीट की परीक्षा से होती है. जो विद्यार्थी नीट की परीक्षा पास करते हैं, वे हमारे देश में डॉक्टर बनते हैं।

NEET परीक्षा 2024 में कब होगी?

नीट परीक्षा 2024 की तिथि 5 मई है, जिसकी पुख्ता जानकारी अभी नहीं मिली है, लेकिन परीक्षा 5 मई को प्रस्तावित है। सभी विद्यार्थी अपनी तैयारी को अच्छे से करते रहें और पूरा ध्यान नीट की तैयारी पर दें, ताकि वे परीक्षा पास करके अपना नाम और कॉलेज रोशन कर सकें।

NEET में आवेदन करने के लिए क्या खर्च होगा?

2024 में नीट की परीक्षा होने जा रही है, इसलिए मैं सभी विद्यार्थियों को बताना चाहता हूँ। इस बार परीक्षा की लागत में कुछ बदलाव किए गए हैं। इस बार सामान्य उम्मीदवार के लिए 1700 फीस निर्धारित की गई है, आरक्षण वर्ग के छात्रों के लिए 1600 फीस निर्धारित की गई है, और एससी-एसटी थर्ड जेंडर के छात्रों के लिए शुल्क में ₹900 की थोड़ी अधिक छूट दी गई है। भारत से बाहर रहने वाले सभी उम्मीदवारों के लिए ₹10,000 का शुल्क निर्धारित है।

कितने विद्यार्थियों को सरकारी कॉलेज मिलेगा?

2024 की नीट परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों को बता दूं कि अगर वे सरकारी स्कूल में शामिल होना चाहते हैं तो उनको 620 में से कम से कम 575 अंक प्राप्त करना होगा. कम नंबर पर कोई सरकारी स्कूल नहीं मिलेगा, इसलिए सभी छात्रों को अपनी पढ़ाई में अच्छे अंक प्राप्त करें।

2024 की नीट परीक्षा का सिलेबस

नीत की परीक्षा इस बार मई में होगी, इसलिए मैं आपको बता दूं कि जो विद्यार्थी इस परीक्षा दे रहे हैं, वे अपने सिलेबस को पूरी तरह से पढ़ें. इस बार परीक्षा से कुछ महत्वपूर्ण विषयों को हटा दिया गया है, जिन पर प्रश्न पूछे जाएंगे। यह विषय बहुत महत्वपूर्ण है: गुरुत्वाकर्षण, थर्मोडायनेमिक्स, कार्य, ऊर्जा, शक्ति और रसायन में मॉलेक्युलर स्ट्रक्चर, एक्वेरियम और केमिकल थर्मोडायनेमिक्स आदि. बायोलॉजी में सभी चेप्टर अनिवार्य हैं, इसलिए सभी छात्रों को अपने नीट टेस्ट पर ध्यान देना चाहिए।

PG-MBBS की सैकड़ों सीटें NEET की जीरो कट-ऑफ के बाद भी खाली रह गईं. सरकार ने मेडिकल कॉलेज में एडमिशन के लिए हर साल NEET की परीक्षा आयोजित की है। NEET पीजी में प्रवेश के लिए इस बार कट ऑफ मार्क्स को कम कर दिया गया था, लेकिन इसके बावजूद भी 247 सीटें खाली रह गई हैं। इसके अतिरिक्त, यूजी कोर्स में 485 सीटें खाली हैं।

PG-MBBS की सैकड़ों सीटें NEET की जीरो कट-ऑफ के बाद भी खाली रह गईं. सरकार ने मेडिकल कॉलेज में एडमिशन के लिए हर साल NEET की परीक्षा आयोजित की है। NEET पीजी में प्रवेश के लिए इस बार कट ऑफ मार्क्स को कम कर दिया गया था, लेकिन इसके बावजूद भी 247 सीटें खाली रह गई हैं। इसके अतिरिक्त, यूजी कोर्स में 485 सीटें खाली हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *