PM Kisan Yojana : 12वीं किस्त पर बड़ा अपडेट, स्टेटस पर द‍िखे ये मैसेज तो आपको पक्‍का म‍िलेंगे पैसे

PM Kisan Yojana 12th Installment Latest update: 12वीं किस्त की राशि केंद्र सरकार द्वारा पीएम किसान के लाभार्थियों को अगस्त से नवंबर के बीच भेजी जानी है। इससे पहले आप अपना स्टेटस चेक कर अपनी किस्त का अपडेट ले सकते हैं। अगर आपने ई-केवाईसी नहीं किया है तो इस प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरा करें।

पीएम किसान सम्मान निधि: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (पीएम किसान) के लाभार्थी 12वीं किस्त का इंतजार कर रहे हैं। इस योजना के तहत 12 करोड़ से अधिक किसानों ने पंजीकरण कराया है। वहीं सरकार ने ई-केवाईसी कराने की आखिरी तारीख 31 जुलाई तय की है। 12वीं किस्त का पैसा सरकार की ओर से अगस्त से नवंबर के बीच जारी किया जाना है. ई-केवाईसी से भी प्रक्रिया चल रही है।

12वीं किस्त से पहले e-KYC कराना जरूरी :

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत केंद्र सरकार की ओर से हर साल 6000 रुपये किसानों के खाते में भेजे जाते हैं. यह राशि 2000-2000 की तीन किस्तों में भेजी जाती है। पीएम मोदी ने 31 मई को 10 करोड़ से ज्यादा किसानों के खाते में 11 किस्त की रकम भेजी थी. जिन लोगों ने ई-केवाईसी नहीं कराया था, उनके खाते में पैसा नहीं आया। ई-केवाईसी नहीं करने पर 12वीं किस्त का पैसा भी फंस सकता है।

Meaning of Waiting For Approval:

12वीं किस्त की प्रक्रिया शुरू हो गई है। आप अपने रजिस्ट्रेशन नंबर या मोबाइल नंबर के आधार पर रुक-रुक कर अपना स्टेटस चेक कर सकते हैं। केंद्र की इस योजना में राज्यों की मंजूरी भी जरूरी है। पोर्टल पर स्टेटस चेक करते समय अगर आपको Waiting For Approval By State लिखा हुआ दिखाई दे तो समझ लें कि आपकी किस्त के लिए अभी तक राज्य सरकार की तरफ से अप्रूवल नहीं आया है।

स्थिति और उनका अर्थ:

अगर स्टेटस चेक करने पर RFT यानि रिक्वेस्ट फॉर ट्रांसफर लिखा होता है, तो इसका मतलब है कि राज्य द्वारा लाभार्थी का डेटा चेक किया गया है। इस आंकड़े को सही पाए जाने पर राज्य सरकार ने केंद्र से लाभार्थी के खाते में किस्त की राशि भेजने का अनुरोध किया है. अगर एफटीओ जेनरेट होता है और पेमेंट कन्फर्मेशन पेंडिंग लिखा हुआ दिखाई देता है तो इसका मतलब है कि फंड ट्रांसफर की प्रक्रिया शुरू हो गई है। कुछ ही दिनों में आपके खाते में राशि ट्रांसफर कर दी जाएगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *