PM Kisan: 11वीं किस्त पर बड़ी अपडेट, इस दिन खाते में आएंगे 2000! किसान ऐसे चेक अपना स्टेटस

PM Kisan: 11वीं किस्त पर बड़ी अपडेट, इस दिन खाते में आएंगे 2000! किसान ऐसे चेक अपना स्टेटस

अगर ‘FTO is generated and Payment confirmation is pending’ लिखा हुआ दिख रहा है तो समझ लीजिए खाते में जल्द पैसा आने वाला है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। पीएम किसान। 12 करोड़ किसानों के लिए काम की खबर है। पीएम किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त की 11वीं किस्त जल्द आ रही है. ताजा मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 15 मई से पहले 11वीं किस्त के 2000 रुपये प्रधानमंत्री मोदी एक क्लिक में किसानों के खाते में ट्रांसफर कर देंगे. किसान अपने खातों में अपडेट चेक करते रहे।
इसके लिए आप https://pmkisan.gov.in/ पोर्टल पर जाकर भी अपने पुराने भुगतान का स्टेटस चेक कर सकते हैं। सत्यापित हो चुका है और अब जल्द ही किस्त का पैसा मिल जाएगा। अगर ‘एफटीओ जनरेट हो गया है और पेमेंट कन्फर्मेशन पेंडिंग है’ लिखा हुआ दिख रहा है तो समझ लें कि जल्द ही खाते में पैसा आने वाला है।
दरअसल, पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत मोदी सरकार किसानों को 2,000 रुपये यानी 6000 रुपये सालाना की तीन किस्तें देती है. हर 4 महीने में किसानों के खाते में 2,000 रुपये ट्रांसफर किए जाते हैं। इसके तहत केंद्र सरकार 2 हेक्टेयर तक जमीन वाले किसानों को सालाना 6000 रुपये भेजती है। यह पैसा सीधे डीबीटी यानी डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के जरिए किसानों के खाते में पहुंचता है। अब तक 10 किश्तें भेजी जा चुकी हैं। उम्मीद है कि मई के दूसरे सप्ताह तक 11वीं किस्त की राशि किसानों के खाते में ट्रांसफर होने लगेगी.

ई-केवाईसी अनिवार्य

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेने के लिए मोदी सरकार ने ई-केवाईसी अनिवार्य कर दिया है और 31 मई की समय सीमा भी तय की है. कोई भी किसान जिसका ई-केवाईसी इस दिन से पहले पूरा नहीं होगा, वह 11वीं किस्त से वंचित हो जाएगा। वही किसान अब आधार आधारित ई-केवाईसी को ओटीपी के जरिए पूरा कर सकते हैं, सरकार ने यह सुविधा फिर से शुरू की है।

पीएम किसान योजना- ये होंगे अपात्र

संवैधानिक पद धारण करने वाले किसान, जो केंद्र या राज्य सरकार में सेवारत या सेवानिवृत्त अधिकारी रहे हैं (ग्रुप डी कर्मचारियों को छोड़कर)
डॉक्टर, वकील, इंजीनियर, सीए जैसे पेशेवर जो अपना अभ्यास कर रहे हैं, सेवानिवृत्त या सेवानिवृत्त पेंशनभोगी जिनकी पेंशन 10,000 रुपये / माह से अधिक है
फर्जी आधार कार्ड वाले किसान, जिन्होंने पीएम किसान ईकेवाईसी पूरा नहीं किया है
एक ही परिवार के एक से अधिक लाभार्थी, जिन्होंने पिछले वित्तीय वर्ष में आयकर रिटर्न दाखिल किया हो,

यहां से चेक करते रहे अपना  स्टेटस

  • यदि आप पीएम किसान पोर्टल के माध्यम से लाभार्थी की स्थिति की जांच कर रहे हैं, तो आपकी किस्त की स्थिति राज्य द्वारा अनुमोदन की प्रतीक्षा कर रही दिखाई देगी। इसका मतलब है कि आपके लिए किस्त जारी करने की मंजूरी राज्य सरकार के पास अटकी हुई है। है।
  • जब आप पीएम किसान सम्मान निधि वेबसाइट (https://pmkisan.gov.in/) पर जाकर अपनी भुगतान स्थिति की जांच करते हैं, तो कई बार आपको पहली, दूसरी, तीसरी, चौथी, पांचवीं, छठी, सातवीं, आठवीं के लिए राज्य द्वारा हस्ताक्षरित आरएफटी मिल जाएगी। , 9वीं, 10वीं, 11वीं किस्त लिखी जाएगी।
  • यहां आरएफटी का फुल फॉर्म रिक्वेस्ट फॉर ट्रांसफर है, जिसका मतलब है कि लाभार्थी के डेटा को राज्य सरकार द्वारा सत्यापित किया गया है, जो सही पाया गया है।
  • अगर आपको ‘एफटीओ जनरेट होता है और पेमेंट कन्फर्मेशन पेंडिंग है’ लिखा दिखाई देता है तो इसका मतलब है कि फंड ट्रांसफर की प्रक्रिया शुरू हो गई है और किस्त जल्द ही आपके खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी।

पीएम किसान साइट पर चेक करें अकाउंट

  • सबसे पहले वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं।
  • अब ‘किसान कॉर्नर’ के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद Beneficiary Status पर क्लिक करें।
  • अब अपना राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव का नाम दर्ज करें।
  • फिर ‘गेट रिपोर्ट’ विकल्प पर क्लिक करने पर पूरी सूची खुल जाएगी।
  • किसान इस सूची में आप अपनी किस्त का विवरण देख सकते हैं।

कैसे करें ई-केवाईसी

स्टेप 1. पीएम किसान की वेबसाइट पर जाएं।
स्टेप 2. ‘किसान कॉर्नर’ के तहत ई-केवाईसी टैब पर क्लिक करें।
स्टेप 3. अगले पेज पर आधार नंबर दर्ज करें और सर्च टैब पर क्लिक करें।
स्टेप 4. इसके बाद रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा।
चरण 5. अब ‘सबमिट ओटीपी’ पर क्लिक करें और ओटीपी दर्ज करें।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *